শিক্ষক পদে ‘ভূতুড়ে’ চাকরি! বিস্ফোরক তথ্য দিল খোদ স্কুল সার্ভিস কমিশন – Sangbad Pratidin

শিক্ষক পদে ‘ভূতুড়ে’ চাকরি! বিস্ফোরক তথ্য দিল খোদ স্কুল সার্ভিস কমিশন – Sangbad Pratidin

आज हम आपके साथ एक नई पोस्ट साझा करना चाहते हैं, जिसका शीर्षक है, जो लिखी गई है,

इस पोस्ट में हमने और अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की है, और इसके माध्यम से विशेष ज्ञान से लिखा गया है, जिससे यह और भी बन गई है।

শিক্ষক পদে ‘ভূতুড়ে’ চাকরি! বিস্ফোরক তথ্য দিল খোদ স্কুল সার্ভিস কমিশন – Sangbad Pratidin

इसलिए, आगे बढ़ने से पहले, आपके लिए हमारी अन्य रोचक पोस्ट

गोविंद राय: स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) ने शिक्षक भर्ती भ्रष्टाचार में ‘भूत’ नौकरियों की पहचान की है! नौवीं-दसवीं और ग्यारहवीं-बारहवीं कक्षा में कुल 58 लोगों को नौकरी कैसे मिल गयी, इसकी आयोग को कोई जानकारी नहीं है. एसएससी ने 9 जनवरी को कलकत्ता उच्च न्यायालय (कलकत्ता एचसी) में एक हलफनामा दायर किया। यहीं से यह विस्फोटक जानकारी सामने आई। जिसे देखकर जज भी हैरान रह गए.

SSC द्वारा दिए गए हलफनामे के मुताबिक नौवीं और दसवीं क्लास में 40 लोगों को ‘भूतिया’ नौकरियां मिलीं. वहीं ग्यारहवीं-बारहवीं क्लास में ये संख्या 18 है. इन 58 लोगों को नौकरी कैसे मिली, यह खुद आयोग को भी नहीं पता. एसएससी के पास इन 58 लोगों के पर्सनैलिटी टेस्ट, इंटरव्यू की कोई जानकारी या दस्तावेज नहीं है. जिससे इन 58 लोगों की नौकरी का भविष्य अनिश्चित हो गया. एसएससी के हलफनामे में यह जानकारी सामने आने से शिक्षक भर्ती में भ्रष्टाचार का मामला और अधिक स्पष्ट होता जा रहा है.

[আরও পড়ুন: প্রেমিকের শিশুকন্যাই পথের কাঁটা, নেলপলিশের রিমুভার খাইয়ে খুন করলেন তরুণী!]

स्कूल सेवा आयोग ने 9 तारीख को हाई कोर्ट के जज देबांशु बसाक की विशेष खंडपीठ को यह हलफनामा सौंपा और कहा कि उनके पास 58 लोगों के रोजगार के बारे में कोई जानकारी या दस्तावेज नहीं है. यह पहली बार नहीं है। इससे पहले भी शिक्षक भर्ती भ्रष्टाचार मामले में एसएससी कोर्ट को कई विस्फोटक जानकारियां दे चुका है. आयोग ने ओएमआर शीट घोटाले का मामला भी कोर्ट में उठाया. इस मामले में स्कूल सेवा आयोग भी एक पक्ष है। केंद्रीय एजेंसी हर भर्ती मामले में एसएससी से जानकारी जुटाकर जांच को आगे बढ़ा रही है. 58 पदों पर ये ‘भूत’ नियुक्ति इस केस के सबसे अहम तथ्यों में से एक है. माना जा रहा है कि इससे जांच का रुख पलट सकता है।

[আরও পড়ুন: OBC সম্প্রদায়কে অপমান রামদেবের! বিতর্কে জড়িয়ে কী সাফাই যোগগুরুর?]

की ओर एक नजर डालना न भूलें।

जब तक हम नई और आकर्षक सामग्री लाने का काम कर रहे हैं, तब तक हमारी वेबसाइट पर और भी लेख और अपडेट के लिए बने रहें। हमारे समुदाय का हिस्सा बनने के लिए धन्यवाद!

#শকষক #পদ #ভতড #চকর #বসফরক #তথয #দল #খদ #সকল #সরভস #কমশন #Sangbad #Pratidin

Sharing is Caring...

Leave a Comment