कोचिंग में पढ़ाते थे, फिर रिश्तेदारों से कर्ज लेकर की तैयारी, SSC CGL 2023 टॉपर से मिलिए – Zee News Hindi

कोचिंग में पढ़ाते थे, फिर रिश्तेदारों से कर्ज लेकर की तैयारी, SSC CGL 2023 टॉपर से मिलिए – Zee News Hindi

आज हम आपके साथ एक नई पोस्ट साझा करना चाहते हैं, जिसका शीर्षक है, जो लिखी गई है,

इस पोस्ट में हमने और अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की है, और इसके माध्यम से विशेष ज्ञान से लिखा गया है, जिससे यह और भी बन गई है।

कोचिंग में पढ़ाते थे, फिर रिश्तेदारों से कर्ज लेकर की तैयारी, SSC CGL 2023 टॉपर से मिलिए – Zee News Hindi

इसलिए, आगे बढ़ने से पहले, आपके लिए हमारी अन्य रोचक पोस्ट

एसएससी सीजीएल 2023 टॉपर सौरभ कुमार: कर्मचारी चयन आयोग (SSC) ने 2023 की कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा (CGL) का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया है. विभाग में कुल रिक्त 8,415 सीटों को भरने के लिए यह परीक्षा आयोजित की गई थी. आयोग के अनुसार, कुल 7,859 आवेदक परीक्षा के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं, जिसके बाद उनका डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जाएगा. बता दें इस परीक्षा के लिए लाखों उम्मीदवार आवेदन करते हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही सफल हो पाते हैं. इसके लिए सालों की तैयारी और समर्पण की आवश्यकता होती है. एसएससी सीजीएल 2023 (SSC CGL 2023) की परीक्षा में अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होकर, बिहार के पूर्णिया शहर के सौरभ कुमार ने ऑल इंडिया रैंक 1 हासिल किया है. यह उनका आखिरी और अंतिम प्रयास था. घर में तमाम आर्थिक समस्याओं और परीक्षा में लगातार असफलता के बावजूद, सौरभ कुमार सरकारी नौकरी पाने के अपने लक्ष्य को छोड़ने के लिए तैयार नहीं थे. वह मंत्रालय के स्टेटिस्टिक्स डिपार्टमेंट में जूनियर स्टैटिकल ऑफिसर (JSO) के पद पर शामिल हुए हैं.

कमर्शियल ब्रेक

पढ़ना जारी रखने के लिए स्क्रॉल करें

मां की बदौलत यहां तक पहुंचे

मीडिया से बात करते हुए सौरभ कुमार ने बताया कि उनके पिता एक साधारण किसान हैं और वह एक मिडिल क्लास परिवार से हैं. वह अपनी पढ़ाई के साथ-साथ घर पर कुछ पैसे लाने के लिए एक कोचिंग संस्थान में शिक्षक के रूप में काम करते थे. सौरभ कुमार चार भाई-बहन हैं. घर की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण सौरभ कुमार को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. सौरभ कुमार ने कहा, ”सरकारी नौकरियों के लिए उम्र सीमा बीतने और बार-बार असफलता मिलने के बाद मैं काफी निराश हो गया था.” उन्होंने बताया कि उन्हें एक सरकारी अधिकारी के रूप में देखना उनकी मां का हमेशा से सपना रहा है. इसने उन्हें कई बार असफल होने के बावजूद आगे बढ़ने और परीक्षा की तैयारी करने के लिए प्रेरित किया.

ज़रूर पढ़ें

रिश्तेदारों के कर्ज लेकर की पढ़ाई

अपनी असफलताओं को देखने के बाद, सौरभ कुमार को एहसास हुआ कि कोचिंग संस्थान में नौकरी के कारण वह ठीक से पढ़ाई नहीं कर पा रहे थे. उन्होंने नौकरी छोड़ दी और सरकारी परीक्षाओं की तैयारी करने लगे. खर्च पूरा करने के लिए उन्होंने अपने चाचा और रिश्तेदारों से कर्ज लिया. कई असफलताओं के बाद, उन्होंने एसएससी सीजीएल 2023 की परीक्षा में पहला स्थान हासिल किया. उन्होंने इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और गुरु आनंद कुमार मिश्रा को दिया है. उन्होंने आने वाले उम्मीदवारों के साथ अपना सक्सेस मंत्र भी साझा किया और कहा कि उन्हें अपने लक्ष्य के लिए कड़ी मेहनत करनी चाहिए और गरीबी को अपनी सफलता में बाधा नहीं मानना चाहिए.

की ओर एक नजर डालना न भूलें।

जब तक हम नई और आकर्षक सामग्री लाने का काम कर रहे हैं, तब तक हमारी वेबसाइट पर और भी लेख और अपडेट के लिए बने रहें। हमारे समुदाय का हिस्सा बनने के लिए धन्यवाद!

#कचग #म #पढत #थ #फर #रशतदर #स #करज #लकर #क #तयर #SSC #CGL #टपर #स #मलए #Zee #News #Hindi

Sharing is Caring...

Leave a Comment